India vs Australia : एलन बॉर्डर बोले अब होगी कमिंस की असली परीक्षा, भारत में जीत होती है मुश्किल

19 साल बाद भारत में सीरीज जीतना चाहेगा ऑस्ट्रेलिया

India vs Australia
India vs Australia

मेलबर्न । अगले महीने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचां की टेस्ट सीरीज खेली जानी है। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिहाज से यह सीरीज काफी महत्वपूर्ण है। भारत यदि इस सीरीज में जीत हासिल करता है तो वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में अपनी जगह बना सकता है। ऑस्ट्रेलिया का वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना लगभग तय है। भारत और ऑस्ट्रेलिया की सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलियाई महान एलन बॉर्डर पैट कमिंस की कप्तानी को लेकर बड़ा बयान दिया है। बॉर्डन यूं तो कमिंस की कप्तानी से काफी प्रभावित हैं, लेकिन उन्होंने कहा कि भारत के खिलाफ आगामी चार टेस्ट मैचों की सीरीज उनकी असली परीक्षा होगी।

19 साल बाद भारत में सीरीज जीतना चाहेगा ऑस्ट्रेलिया

पैट कमिंस की अगुआई में कंगारुओं की निगाहें भारत में 19 साल में पहली सीरीज जीतने पर टिकी हैं। बॉर्डर ने कहा कि यह कमिंस की टीम के लिए कड़ी परीक्षा होगी। एशेज 2021 से पहले टिम पेन के अचानक इस्तीफे के बाद बतौर कप्तान कमिंस सुनहरे दौर से गुजर रहे हैं।

India vs Australia : भारत दौरे के लिए ऑस्ट्रेलिया ने किया टीम का एलान, चार स्पिनर्स को दी जगह

कमिंस ने एशेज में दर्ज की थी 4-0 से जीत

कमिंस ने एशेज सीरीज को 4-0 से जीतकर अपनी कप्तानी की शुरुआत की। फिर पाकिस्तान, वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी जीत हासिल की। ऑस्ट्रेलिया ने पिछले साल श्रीलंका जाकर उसके खिलाफ 1-1 से टेस्ट सीरीज ड्रॉ खेला था।

इन प्रदर्शनों की बदौलत ऑस्ट्रेलियाई टीम पहली बार विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने की प्रबल दावेदार है। भारत के खिलाफ सीरीज इस डब्ल्यूटीसी कैलेंडर की आखिरी टेस्ट सीरीज होगी। इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम इंग्लैंड के खिलाफ उसके घर में एशेज सीरीज खेलेगी। 2001 के बाद पहली बार कंगारू टीम इंग्लैंड की धरती पर एशेज जीतने की उम्मीद लगाए बैठी होगी।

बॉर्डर ने कहा- भारत ही ऑस्ट्रेलिया के लिए आखिरी परीक्षा

67 वर्षीय बॉर्डर ने कहा- अगले 12 महीने ऑस्ट्रेलिया के लिए और विशेष रूप से पैट कमिंस की कप्तानी के लिए असली परीक्षा है, क्योंकि भारत ही ऑस्ट्रेलिया के लिए आखिरी परीक्षा है। हम भारत में बहुत बार नहीं जीते हैं। यह खेलने के लिए एक कठिन जगह है और जीतने के लिए एक कठिन जगह है और इंग्लैंड में भी वही हाल है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान ने कहा कि शुरुआत में वह कमिंस के टेस्ट टीम का नेतृत्व करने को लेकर आशंकित थे, लेकिन उन्होंने सुनिश्चित किया कि इससे उनकी गेंदबाजी प्रभावित नहीं हो।

India vs Australia : पहले टेस्ट से बाहर रह सकते हैं स्टार्क, बुमराह पर भी संशय बरकरार

अच्छे से संभाली है कप्तानी

बॉर्डर ने कहा- मैं एक तेज गेंदबाज को बतौर कप्तान देखने के लिए उतना उत्सुक नहीं था। यह व्यक्तिगत तौर पर उनके लिए नहीं है, लेकिन यह था कि वह हमारे नंबर वन बॉलर हैं। हालांकि, कमिंस ने कई लोगों को गलत साबित किया और उन्होंने सही ढंग से कप्तानी संभाली है। हो सकता है कि टीम के मेकअप ने मदद की हो, जहां उनके पास कुछ वरिष्ठ खिलाड़ी हैं जो चीजों को संभाल सकते हैं और जब वह गेंदबाजी कर रहे होते हैं तो वे कुछ हद तक नियंत्रण कर सकते हैं।

बॉर्डर ने कहा- मैं उन्हें सलाम करता हूं। उन्होंने बहुत अच्छा किया है। यह टीम एक अच्छी टीम दिख रही है। हम बहुत अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं और कप्तान के रूप में ज्यादा से ज्याद यही कर सकता है। भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया चार टेस्ट नागपुर (9-13 फरवरी), नई दिल्ली (17-21 फरवरी), धर्मशाला (1-5 मार्च) और अहमदाबाद (9-13 मार्च) में खेलेगा।