Pravasi Bhartiya Sammelan
Pravasi Bhartiya Sammelan

हाइलाइट्स

  • सम्मेलन में 9 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी होंगे शामिल
  •  समारोह समारोह 10 जनवरी को राष्ट्रपति होंगी शामिल
  •  तैयारियों का जायजा लेने प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा ले रहे बैठक
  •  शाम को मुख्यमंत्री फिर करेंगे सम्मेलन की तैयारियों की समीक्षा
  • विदेशों से मेहमानों के आने का सिलसिला लागातार जारी

भोपाल। प्रदेश में पहली बार प्रवासी भारतीय सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। रविवार से देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में प्रवासी भारतीय सम्मेलन शुरू होने जा रहा है। सम्मेलन में शामिल होने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 जनवरी को आ रहे हैं। कार्यक्रम आठ जनवरी से ही शुरू होगा।

केंद्र सरकार के प्रवासी भारतीय विभाग द्वारा यह आयोजन किया जा रहा है। अभी तक यह आयोजन दिल्ली, मुंबई और गोवा जैसे बड़े शहरों में होता रहा है। मध्यप्रदेश को पहली बार इस आयोजन की मेजबारी मिली है। प्रदेश सरकार के गृह मंत्री और इंदौर के प्रभारी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा तैयारियों का जायजा लेने इंदौर में बैठक ले रहे हैं। मंत्री डॉ. मिश्रा सम्मेलन के समारोह समारोह 10 जनवरी तक इंदौर में ही रहेंगे।

इंदौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत के लिए 90 फीट ऊंचा कटआउट बनाया गया है। इसके साथ ही कार्यक्रम के समापन के लिए राष्ट्रपति द्रोपति मुर्मू 10 जनवरी को इंदौर पहुंचेंगी। इंदौर में प्रवासी भारतीयों के लिए खासतौर से मालवीय भोजन और कई प्रकार की अलग-अलग डिश भी बनाई गई है।

प्रवासी भारतीयों के आने का सिलसिला शुरू-

प्रवासी भारतीयों के आने का सिलसिला भी जारी है। अमेरिका से इंदौर पहुंची प्रवासी भारतीय उषा कमरिया ने लल्लूराम ने कहा कि 40 साल पहले का इंदौर और आपके इंदौर की तस्वीर काफी बदली हुई है। अब इंदौर पहले से बहुत ही सुंदर लगता है।

Six lane project: कोलार तिराहे पर अतिक्रमण हटाने गए अमले पर हमला

50 मेहमानों को मिलेगी जेड प्लस सुरक्षा

प्रवासी भारतीय सम्मेलन में प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति सहित 29 देशों के राजनयिक शामिल होंगे। 50 लोगों को जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी। एसपीजी की टीम निर्धारित प्रोटोकाल के तहत काम कर रही है। एक अतिरिक्त हेलीपैड का निर्माण पार्क होटल के पास किया गया है। सभी मेहमान विदेश से आ रहे हैं, इसलिए कोविड प्रोटोकाल का पालन होगा। सम्मेलन के दौरान आम जनता को परेशानी न हो, इसका पूरा प्रयास किया जाएगा।

प्रवासी भारतीयों का स्वागत शाल-श्रीफल से किया जाएगा। उनके होटल तक जाने के लिए बस, प्राइवेट कार और टैक्सी का इंतजाम है। शहर की 37 होटलों में ठहरने की व्यवस्था की गई है। होम स्टे में भी मेहमान रहेंगे। पुलिस आयुक्त ने बताया कि तीन डीआइजी, 15 एसपी स्तर के अधिकारी हमें मिले हैं। सात हजार अतिरिक्त पुलिसकर्मी और हमारे पुलिस बल के साथ कुल 10 हजार पुलिस जवान सुरक्षा व्यवस्था में रहेंगे। ड्रोन और वाच टावर की मदद से सुरक्षा की जाएगी। प्रमुख पयर्टन स्थलों पर भी अस्थायी चौकी बनाई जाएगी।

तैयारियों में यह भी खास-

  •  हेल्प डेस्क पर बहुभाषिए रखे जाएंगे।
  • वीआइपी की गाड़ी के लिए एयरपोर्ट पर अलग गेट बनाया गया है।
  • सुपर कारिडोर का एक तरफ का रास्ता बंद किया गया है। दूसरा चालू रहेगा।
  • मेहमानों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए अतिरिक्त एंबुलेंस तैनात की जाएगी। कुछ मिनटों में होटलों से अस्पताल ले जाएगी।
  •  डाक्टरों को अलर्ट मोड पर रहने के लिए कहा गया है