मध्यप्रदेश के रीवा जिले में क्रैश हुए ट्रेनी प्लेन मामले की जांच के लिए तीन राज्यों का दल घटनास्थल पहुंच गया है। यह दल ब्लैक बॉक्स सहित अन्य बिंदुओं पर जांच करेगा। बता दें कि, रीवा के चोरहटा थाना क्षेत्र के अंतर्गत उमरी गांव में गुरुवार की रात एक ट्रेनी प्लेन मंदिर के गुंबद से टकराकर क्रैश हो गया था। इस घटना में मुख्य पायलट विमल कुमार ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था। जबकि प्रशिक्षण ले रहा छात्र सोनू यादव गंभीर रूप से घायल हुआ है।

आखिर क्रैश क्यों हुआ प्लेन…

प्लेन क्रैश मामले की जांच करने के लिए दिल्ली, मुंबई और भोपाल की टीम घटनास्थल पहुंची है। टीम शुक्रवार की शाम रीवा पहुंची थी, लेकिन अंधेरा होने के चलते शनिवार की सुबह चोरहटा थाना क्षेत्र के उमरी गांव पहुंचकर ब्लैक बॉक्स सहित अन्य बिंदुओं की जांच कर रही है। टीम यह जानने की कोशिश कर रही है कि आखिर ऐसा क्या हुआ कि प्लेन क्रैश हो गया। इसके पीछे कोई तकनीकी खामी या फिर मौसम की वजह से तो ऐसा नहीं हुआ, दरअसल इस समय रात के वक्त आसमान में कोहरा अधिक है।

Bhopal Accident: पत्नी से पति का साथ भी छूटा और भाई का प्यार भी

हो सकती है कार्यवाही

जानकारी के मुताबिक, क्रैश हुआ प्लेन फाल्कन एविएशन अकादमी का 2 सीटर विमान था। प्लेन मंदिर के गुंबज को तोड़ता हुआ एक घर के सामने जमीन पर जा गिरा। इस हदासे में विमान के परखच्चे उड़ गए। जांच के बाद लापरवाही पाए जाने पर ट्रेनिंग एकेडमी पर कार्रवाई हो सकती है। जांच एजेंसियों की टीमों ने मीडिया के सामने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया, लेकिन जांच के संबंध में थाना प्रभारी अवनीश पांडेय ने बताया कि तीन टीमें जांच कर रही हैं, जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।