Vishnudutt Sharma
Vishnudutt Sharma

भोपाल। लगातार विकास के पथ पर आगे बढ़ता मध्यप्रदेश कमलनाथ की आंखों में चुभ रहा है। उन्हें शिवराज सरकार के उन प्रयासों से चिढ़ हो रही है, जो प्रदेश की खुशहाली और विकास के लिए किए जा रहे हैं। इसीलिए कमलनाथ ऐसे समय पर प्रदेश का वातावरण खराब करने, विद्वेष फैलाने का प्रयास कर रहे हैं, जब सैकड़ों उद्योगपति और निवेशक इंदौर में एकत्र हुए हैं और प्रदेश के औद्योगिक विकास का तानाबाना तैयार कर रहे हैं।

यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने करणी सेना के संबंध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के बयान की आलोचना करते हुए कही। प्रदेश अध्यक्ष  शर्मा ने कहा कि कमलनाथ और उनकी कांग्रेस पार्टी को प्रदेश की जनता ने प्रदेश के विकास में सहभागी बनने, उसे दिशा देने का अवसर दिया था।

सूर्य नमस्कार और योगाभ्यास से हमारे तन के साथ मन भी स्वस्थ रहता: मुख्यमंत्री चौहान

प्रदेश के युवाओं से रोजगार के नाम पर छल-

लेकिन कमलनाथ और उनके करीबियों ने उसे भ्रष्टाचार का रिकॉर्ड बनाने का अवसर समझा और 15 महीने का पूरा समय इसी उधेड़बुन में बर्बाद कर दिया। उनके समय में नए निवेशकों को आकर्षित करने का एक भी सार्थक प्रयास नहीं किया गया। प्रदेश के युवाओं से रोजगार के नाम पर छल करने वाले कमलनाथ स्वयं भी उद्योगपति हैं, लेकिन उन्होंने भी मध्यप्रदेश में अपना कोई उद्योग लगाना या निवेश करना ठीक नहीं समझा।

कमलनाथ आज पूरी बेशर्मी के साथ सवर्ण आरक्षण की बात कर रहे हैं-

उन्होंने कहा कि जिस कांग्रेस के जमाने में प्रदेश में डाकुओं के दर्जनों गिरोह थे, कुओं से सिमी के हथियार निकलते थे, जिनके जमाने में नक्सली मंत्रियों का सर कलम कर देते थे, उन्हें आज मध्यप्रदेश की शांति और खुशहाली चुभ रही है।शर्मा ने कहा कि जिन कमलनाथ ने मुख्यमंत्री रहते मोदी सरकार द्वारा लिए गए गरीब सवर्णों को 10% आरक्षण देने के निर्णय को मध्यप्रदेश में लागू नहीं किया, वही कमलनाथ आज पूरी बेशर्मी के साथ सवर्ण आरक्षण की बात कर रहे हैं ।

उन्होंने कहा कि वास्तव में कमलनाथ प्रदेश की जनता का या किसी भी वर्ग का भला नहीं चाहते, उनकी नजर तो बस सत्ता हासिल करने पर है, ताकि वे और उनके करीबी फिर से लूटखसोट का खेल चालू कर सकें, प्रदेश के संसाधनों की बंदरबांट कर उसे बर्बाद कर सकें। इसीलिए कमलनाथ ऐसे समय पर विद्वेष का राग अलाप रहे हैं, जब प्रवासी भारतीय सम्मेलन और इन्वेस्टर समिट के कारण मध्यप्रदेश का गौरव आसमान छू रहा है, मध्यप्रदेश के विकास की नई इबारत लिखी जा रही है।

प्रदेश का वातावरण खराब करने के लिए किस वैशाखी का सहारा लेने वाले हैं-

शर्मा ने कहा कि करणी सेना के कांग्रेस सेना के रूप में इस्तेमाल में कमलनाथ और उनकी कांग्रेस पार्टी कभी सफल नहीं होगी, क्योंकि जिनके पुरखों ने देश और धर्म की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व बलिदान कर दिया, वे कभी देशद्रोहियों का साथ देने वालों के हाथों का खिलौना बनना पसंद नहीं करेंगे। शर्मा ने कहा कि करणी सेना का आंदोलन तो अब समाप्त हो गया, लेकिन कमलनाथ को प्रदेश की जनता को यह बताना चाहिए वे अब प्रदेश का वातावरण खराब करने के लिए किस वैशाखी का सहारा लेने वाले हैं।