Congress's election strategy
Congress's election strategy

भोपाल। प्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी ने भाजपा सरकार को घेरने की रणनीति पर काम कर रही है। सोमवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रदेशभर के कांग्रेस समर्थित नगरीय निकाय प्रतिनिधियों का बड़ा सम्मलेन भोपाल में कर रहे हैं। इस सम्मेलन में कांग्रेस पार्टी भाजपा सरकार और भाजपा को चौपाल-चौपाल घेरने की रणनीति पर रणनीति बना रही है।

कमलनाथ ने हर गांव में प्रदेश और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ मजबूती से खड़े होने के लिए अपने जनप्रतिनिधियों का आह्वान किया है। सम्मेलन में 2,000 से ज्यादा पंचायत प्रतिनिधियों के शामिल हो रहे हैं। सम्मेलन में कमलनाथ आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर पंचायत प्रतिनिधियों से कई वादे भी कर सकते हैं।

पंचायत प्रतिनिधियों से खुले मंच पर चर्चा-

कांग्रेस ने पंचायत प्रतिनिधियों से क्षेत्रीय समस्याओं की जानकारी भी मांगी है, इसको लेकर कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में कई मुद्दों को शामिल कर सकती है। सम्मेलन में इसको लेकर पंचायत प्रतिनिधियों से खुले मंच पर चर्चा हो रही है। पंचायती राज अधिनियम 1993 को जस का तस लागू करने के प्रस्ताव पर सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कराया जा सकता है।

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने ओंकारश्वर के किए दर्शन

हस्त शिल्प प्रदर्शनी का शुभारंभ, पहुंचे ग्राहक—-

भोपाल। राजधानी भोपाल के गौहर महल में एक पखवाड़े तक चलने वाली हस्तशिल्प प्रदर्शनी का रविवार को शुभारंभ हो गया। प्रदर्शनी 7 जनवरी से 16 जनवरी तक आयोजित की गई है। रविवार शाम को केंद्र सरकार के विकास आयुक्त कार्यालय के सहायक निदेशक अर्चित सहारे, एमपीएचएसवीएन के सहायक प्रबंधक अशोक निगम, संस्था सचिव हेमराज सोनगारा ने प्रदर्शनी का शुभारंभ किया।

संस्था के सचिव हेमराज सोनगारा ने बताया कि प्रदर्शनी में शामिल होने के लिए देशभर के 50 शिल्पी आए हैं। अधिकांश हस्तशिल्पी प्रदेश के ही हैं। टैगोर इंस्टीट्यूट फाॅर मल्टीपरपस एजुकेशन भोपाल द्वारा विकास आयुक्त (हस्तशिल्प) वस्त्र मंत्रालय नई दिल्ली के सहयोग से यह हस्तशिल्प प्रदर्शनी लगाई गई है। प्रदर्शनी 16 जनवरी तक चलेगी। प्रदर्शनी में हाथ से बने उत्पादों को खरीदने के लिए रविवार से ग्राहकों की भीड़ जुटने लगी है।

प्रदर्शनी में स्व सहायता समूहों द्वारा उत्पादित वस्तुएं जैसे जूटबैग, जरीवर्क, एम्ब्राइडरी इत्यादि की 50 दुकानें लगाई गई हैं। प्रदर्शनी दोपहर 2 बजे से रात्रि 10 बजे प्रदर्शनी खुली रहेगी।