सर्जिकल स्ट्राइक
सर्जिकल स्ट्राइक

भोपाल। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के मुख्य संयोजक व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा सोमवार को सर्जिकल स्ट्राईक को लेकर दिए गए बयान पर बवाल मचा हुआ है। कांग्रेस पार्टी ने दिग्विजय सिंह के बयान से किनारा कर लिया है, वहीं भाजपा उन पर हमलावर हो गई है।

दिग्विजय सिंह द्वारा फिर सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे जा रहे हैं-

मंगलवार प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिग्विजय सिंह के उक्त बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस का डीएनए ही पाकिस्तान सरपरस्ती का है। शिवराज सिंह चौहान ने पूरी कांग्रेस पार्टी को ही कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि कभी सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगते हैं तो कभी भगवान राम का अस्तित्व था या नहीं था, इस पर सवाल उठाते हैं। कभी रामसेतु के सबूत मांगते हैं। दिग्विजय सिंह द्वारा फिर सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे जा रहे हैं। इस तरह वह सेना का मनोबल गिराने का पाप कर रहे हैं। वह इस तरह खुद को पाकिस्तान के साथ खड़ा दिखा रहे हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा-

मुख्यमंत्री चौहान ने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा और कहा कि राहुल जी, यह कैसी भारत जोड़ो यात्रा है? आपके साथ टुकड़े-टुकड़े गैंग चल रहा है। सेना का मनोबल गिराया जा रहा है। इतना ही नहीं, राहुल गांधी भी सवाल उठा रहे कि सेना कमजोर होगी। यह देशभक्ति नहीं है। कभी दिग्विजय के राज में सिमी का गढ़ था मप्र। उन्होंने कांग्रेस से अपील की कि कम से कम सेना का मनोबल गिराने का पाप और अपराध न करें।