Australian Open : पूर्व नंबर वन गार्बिन मुगुरूजा को मिली हार, गार्सिया-रुबलेव अगले दौर में

रूसी और बेलारूसी झंडे पर प्रतिबंध

Australian Open
Australian Open

मेलबर्न । ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट में उलटफेर का दौर जारी है। मंगलवार को महिलाओं पहले राउंड के मुकाबले में पूर्व नंबर वन स्पेन की गार्बिन मुगुरुजा को 26वीं वरीयता प्राप्त बेल्जियम की एलिस मर्टेंस ने 3-6, 7-6, 6-1 से हरा दिया। इसी के साथ मुगुरुजा का इस ग्रैंड स्लैम में सफर समाप्त हो चुका है। वहीं, कैरोलिन गार्सिया और आंद्रे रुबलेव अगले दौरे में जगह बनाने में कामयाब रहे हैं। पिछले साल वीजा कारणों से टूर्नामेंट नहीं खेलने वाले सर्बिया के पूर्व नंबर एक नोवाक जोकोविच भी इस साल वापसी कर रहे हैं।

रूसी और बेलारूसी झंडे पर प्रतिबंध

महिलाओं की चौथी वरीयता प्राप्त गार्सिया और पुरुषों की पांचवीं वरीयता प्राप्त रुबलेव दोनों ने सीधे सेटों में जीत हासिल की। इसके बाद मैच को कुछ देर के लिए रोका भी गया। अत्यधिक गर्मी के कारण मुख्य स्टेडियमों की छतें बंद की गईं। इतना ही मैच के दौरान भारी ड्रामा भी देखने को मिला, जब ऑस्ट्रेलिया में यूक्रेनी राजदूत की शिकायत के बाद टेनिस ऑस्ट्रेलिया ने रूसी और बेलारूसी झंडे पर प्रतिबंध लगा दिया।

रूस के झंडे सोमवार को कम से कम दो मैचों के दौरान देखे गए थे। यूक्रेनी प्रशंसकों ने कथित तौर पर सुरक्षा और पुलिस को स्टैंड में बुलाया। इसके बाद टेनिस ऑस्ट्रेलिया ने रूसी और बेलारूसी झंडे पर तुरंत प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया। यूक्रेन पर आक्रमण के बाद से, ऑस्ट्रेलिया ओपन में रूसी और बेलारूसी खिलाड़ियों को एक तटस्थ ध्वज के तहत हिस्सा लेने के लिए कहा गया है।

रूबलेव ने थिएम को दी मात

रूस के रुबलेव ने 2020 के फाइनलिस्ट डोमिनिक थिएम को 36 सेल्सियस तापमान में 6-3, 6-4, 6-2 से हराकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया। मौजूदा रैंकिंग में थिएम से कहीं ऊपर रुबलेव ने शानदार खेल दिखाया और किसी भी सेट में वापसी का मौका नहीं दिया। थिएम जो कि पिछले कुछ समय से चोट से जूझते रहे हैं। 2020 में यूएस ओपन चैंपियन बनने के बाद से ऑस्ट्रिया के 98वीं वरीयता प्राप्त थिएम कुछ खास नहीं कर पाए हैं। वह रोलैंड गैरोस यानी फ्रेंच ओपन में दो बार के फाइनलिस्ट भी हैं। 2021 और 2022 सीजन में थिएम करीब नौ महीने तक कोर्ट से दूर रहे।

रुबलेव ने मैच के बाद कहा- हम वास्तव में अच्छे दोस्त हैं और मैं जानता हूं कि वह मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। इसलिए मैं उन्हें शुभकामनाएं देना चाहता हूं कि वह जल्द से जल्द उसी स्तर पर वापस आएं जहां उन्होंने चोट की वजह से छोड़ा था। वहीं, महिलाओं में गार्सिया ने केवल 65 मिनट में कनाडा की क्वालिफायर कैथरीन सेबोव को 6-3, 6-0 से हराया और साल के पहले ग्रैंड स्लैम के दावेदार के रूप में अपनी स्थिति मजबूत की। पांचवीं वरीय आर्यना साबालेंका ने भी चेक गणराज्य की तेरेजा मार्टिनकोवा को 6-1, 6-4 से हराया।

एंडी मरे और जोकोविच दूसरे दौर में पहुंचे

एंडी मरे ने इटली के मैटियो बेरेटिनी की चुनौती से पार पाते हुए पांच सेटों का मैराथन मुकाबला जीतकर ऑस्ट्रेलियाई ओपन के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया। मरे ने 6-3, 6-3, 4-6, 6-7(7), 7-6(10-6) से जीत हासिल की। चार घंटे 49 मिनट तक चले मुकाबले में जीत के साथ मरे ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन में अपनी 50वीं जीत हासिल की। ओपन युग (1968 से) में वर्ष के पहले ग्रैंडस्लैम में 50 जीत हासिल करने वाले एंडी पांचवें खिलाड़ी हैं। उनसे पहले नोवाक जोकोविच, रोजर फेडरर, राफेल नडाल और स्टीफन एडबर्ग यह उपलब्ध हासिल कर चुके हैं। दूसरी ओर, दिग्गज खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने भी पहले दौर में जीत हासिल की। जोकोविच ने स्पेन के रॉबर्टो कार्बालेस बाएना को तीन सेटों तक चले मुकाबले में 6-3, 6-4, 6-0 से हरा दिया।

यूएस ओपन का हिसाब चुकता

पांच बार के उपविजेता 35 साल के स्काटिश एंडी ने पहले दो सेट जीत लिए लेकिन 13वीं वरीयता के बेरेटिनी ने अगले दो सेट जीतकर जबर्दस्त पलटवार किया। दस अंकों के टाईब्रेक में मरे ने अपना संयम कायम रखते हुए बाजी मारी। यूएस ओपन में बेरेटेनी ने मरे को हराया था, इस जीत से उन्होंने अपना हिसाब भी बराबर कर लिया। मरे ने एक मैच प्वाइंट बचाया, उसके बाद भाग्य ने उनका साथ दिया जब अंतिम अंक नेट पर लगने के बाद मरे के पक्ष में दूसरे पाले में गिरा। बेरेटिनी पिछली बार सेमीफाइनल तक पहुंचने में सफल रहे थे। मेलबर्न पार्क में खराब मौसम के कारण दिन का कार्यक्रम भी बाधित हुआ।

रेव ने जीता पांच सेट का मैच

इसके अलावा दुनिया के पूर्व नंबर दो जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने पांच सेट तक चले अन्य मुकाबले में दुनिया के 103वें नंबर के जुआन पाब्लो वरिलास को 4-6, 6-1, 5-7, 7-6(3), 6-4 से हराया। ज्वेरेव की यह जून के बाद पहली जीत है। फ्रेंच ओपन के सेमीफाइनल में चोट लगने के कारण वह मैदान से बाहर रहे थे। इसके अलावा शीर्ष दस में शामिल रूस के आंद्रे रूबलेव और टेलर फ्रिटज भी दूसरे दौर में पहुंच गए।

रूबलेव ने पूर्व उपविजेता डोमिनिक थीम को 6-3, 6-4, 6-2 से हराया। जब यह मैच चल रहा था तब मौसम 36 डिग्री सेल्सियस था यानी काफी गर्मी पड़ रही थी। रूबलेव ने कहा कि काफी गर्मी पड़ रही थी। ऐसे में सीधे सेटों में जीतकर काफी खुश हूं। बंद छत के नीचे फ्रिटज ने जार्जिया के निकोलज बेसिलाशवली को 6-4, 6-2, 4-6, 7-5 से पराजित किया।

महिला वर्ग में सबालेंका-गार्सिया आगे बढ़ीं

महिला वर्ग में पांचवीं वरीयता की अर्यना सबालेंका और कैरोलीन गार्सिया ने रॉड लेवर एरीना में क्रमश: टेरेजा मार्टिनकोवा को 6-1,6-4 से जबकि चौथी वरीयता की गार्सिया ने कनाडा की क्वालिफायर कैथरीन सेबोव को 6-3, 6-0 से हराया। गार्सिया की टक्कर यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचने वालीं लेलेह फर्नांडिज से होगी जिन्होंने एलिज कोर्नेट को 7-5, 6-2 से हराया।