Chief Minister Shivraj Singh Chouhan
Chief Minister Shivraj Singh Chouhan

भोपाल। प्रदेश में पर्यावरण को बचाने, संरक्षित करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को बड़ी घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में पर्यावरण की रक्षा करने वालों को वृक्ष वीर और वृक्ष वीरांगना पुरस्कार देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने कल जल विजन के शुभारंभ अवसर पर सभी प्रदेश के मंत्रियों को पौधे लगाने के लिए आमंत्रित किया था।

Water Vision Park
Water Vision Park

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आग्रह पर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, विभाग के राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के साथ आठ राज्य के मंत्रियों व अधिकारियों ने स्मार्ट पार्क में पौध रोपा। मुख्यमंत्री ने स्मार्ट पार्क का नाम बदलकर वॉटन विजन पार्क करने की घोषणा की है। इस मौके पर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मुख्यमंत्री चौहान के पानी बचाने और पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रतिदिन एक पौध लगाने के संकल्प को सराहनीय कदम बताया है।

केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री शेखावत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वर्ष 2047 के विकसित भारत के संकल्प के अंतर्गत देश में पहली बार पानी के लिए काम करने वाले जनप्रतिनिधियों और वरिष्ठ अधिकारियों का सम्मेलन भोपाल में हुआ है। जल सम्मेलन में पानी की निर्बाध आपूर्ति हो, इस बारे में गहन मंत्रणा हुई है। जमीन, जलवायु, जंगल और जल के संरक्षण के लिए सभी एकजुट हों।

प्रदेश के सभी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालयों में होगी फिजियोथेरेपी की पढ़ाई

इन प्राकृतिक संसाधनों को परिपुष्ट किया जाए ताकि आने पीढ़ी को हम संतुलित जीवन दे सकें, इसके लिए सम्मेलन में विचार-विमर्श किया गया। मुख्यमंत्री चौहान का प्रतिदिन पौधे लगाने का कार्य अभिनंदन योग्य है। यह अपने तरह का पहला सम्मेलन था, इसकी स्मृति को ताजा बनाए रखने के लिए यह उद्यान स्मृति वन के रूप में पहचान बनाकर हमें भी सम्मेलन की याद दिलाएगा।

आमजन के जुड़ने से कार्य सफल हो जाता है-

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि जनता की भागीदारी से अनेक अभियान सफल हुए हैं। प्रदेश में पर्यावरण संरक्षण के लिए नागरिकों की सहभागिता निरंतर बढ़ रही है। नर्मदा जयंती वर्ष 2021 से प्रारंभ प्रतिदिन पौधे लगाने का संकल्प अन्य लोगों के लिए प्रेरणा बन रहा है। जब किसी कार्य से आमजन जुड़ जाए तो उसे सफलता मिलती है। लोगों के स्वभाव में वृक्षारोपण शामिल हो, यह आवश्यक है। जब जनता के मन में बात बैठ जाती है तो उसे साकार होने में देर नहीं लगती।

इन अतिथियों ने रोपा मुख्यमंत्री के साथ पौध-

केन्द्रीय जलशक्ति और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल, प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव के अलावा राज्यों के जिन मंत्रीगण ने पौधे लगाए उनमें मिथलेश कुमार ठाकुर झारखंड, पीयुष हजारिका असम, स्वतंत्र देव सिंह उत्तरप्रदेश, कुंवर जी भाई भावलिया और मुकेश पटेल गुजरात, सुभाष ए. शिरोड़कर गोवा, हरजीत सिंह बैंस पंजाब, अवांगबो नेवमाई मणिपुर शामिल थे। इसके अलावा कर्नाटक के सचिव मृत्युंजयन स्वामी ने भी पौधे लगाए।