Think-20
Think-20

भोपाल। जी-20 के अंतर्गत आयोजित थिंक-20 विचार सत्र के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सारी दुनिया को एक होने की जरूरत है। प्रदेश में बिजली बचाओ, जल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण, नवकरनीय ऊर्जा का उपयोग और बेटी बचाओ अभियान एवं लाड़ली लक्ष्मी योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत विकास की ओर अग्रसर है। उन्होंने आने वाले वर्षों में विभिन्न लक्ष्य तय किए हैं। इनमें प्रमुख रूप से नवीकरणीय ऊर्जा और कार्बन उत्सर्जन कम करने, मजबूत अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य शामिल हैं। दरअसल ये दुनिया को बचाने का मंत्र है। हमारी प्राथमिकता भी प्रकृति के साथ प्रगति है। प्रदेश में हो रहा पौधारोपण इसका प्रमाण है।

जलाभिषेक अभियान से साढ़े चार लाख जल संरचनाएं निर्मित हो गई। मुख्यमंत्री ने अतिथियों से सांची बौद्ध स्तूप, भोपाल ट्राईबल म्यूजियम देखने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने मध्यप्रदेश की विशिष्ट प्राणी संपदा की जानकारी भी डेलिगेट्स को दी है।

भोपाल में थिंक-20 की दो दिवसीय बैठक, मुख्यमंत्री करेंगे शुभारंभ

वर्ष 2023 के लिए भारत को मिली है जी-20 देशों की अध्यक्षता

थिंक-20 की दो दिवसीय बैठक  सोमवार सुबह राजधानी भोपाल के कुशाभाऊ अंतर्राष्ट्रीय सभागम में शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विदेशी मेहमानों के साथ बैठक का शुभारंभ किया। बैठक के मुख्य समन्वय भारत सरकार के अधिकारी हर्षवर्धन श्रृंगला हैं। कार्यक्रम में जी-20 समूह में शामिल 22 देशों के 94 प्रतिनिधियों सहित देश-विदेश के करीब 300 विशेषज्ञ और मेहमान हिस्सा ले रहे हैं। बैठक में मौजूदा दौर में पर्यावरण सम्मत जीवन शैली पर मंथन किया जा रहा है।

सम्मेलन के दौरान मप्र नीति आयोग के उपाध्यक्ष प्रोफेसर सचिन प्रोफेसर चतुर्वेदी ने कहा कि भारत विश्व की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है। हमने समावेशी विकास का माडल अपनाया है। नए बैंक खाते खोलने के साथ आवास बनाकर देने का काण बड़े स्तर पर किया गया है। डिजिटल इकोनामी की दिशा में बड़ा कदम उठाया है। नैतिक मूल्य का पालन हर स्तर पर होना चाहिए। इस दो दिवसीय सम्मेलन का घोषणा पत्र जारी करेंगे।

अतिथियों के साथ मुख्यमंत्री ने रोपा पौधा-

सम्मेलन से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जी-20 के तहत आयोजित बैठक में शामिल होने भोपाल पधारे विदेशी मेहमानों और अन्य प्रतिनिधियों के साथ स्मार्ट पार्क जिसे अब वॉटर विजन पार्क नाम दिया गया है, उसमें पौधा रोपा है। पौधा रोपने वालों में प्रो. सचिन चतुर्वेदी के साथ नीति आयोग दिल्ली के उपाध्यक्ष सुमन बेरी भी शामिल थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जी-20 के तहत टी-20 की यह बैठक महत्वपूर्ण है। दुनियाभर के चिंतक और बुद्धिजीवी मध्यप्रदेश पधारे हैं। भोपाल कैपिटल ऑफ इंटेलेक्चुअल हो गई है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वे प्रतिदिन पौधे लगाते हैं। प्रदेश में अंकुर पोर्टल बनाया गया है जिसमें नागरिक विवाह वर्षगांठ और जन्म वर्षगांठ पर पौधे लगाते हैं। अंकुर पोर्टल के माध्यम से लोग जुड़ते जा रहे हैं इनकी संख्या 37 लाख से अधिक हो गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी वन अर्थ, वन फैमिली एंड वन फ्यूचर के सिद्धांत पर कार्य कर रहे हैं। आज ये उद्यान ग्लोबल गार्डन हो गया है। इस अवसर पर नीति आयोग के उपाध्यक्ष सुमन बेरी ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

बता दें कि जी-20 के अंतर्गत थिंक -20 की दो दिवसीय बैठक इस में ‘पर्यावरण सम्मत जीवन शैली-नैतिक मूल्य तथा सुमंगलमय युक्त वैश्विक सुशासन’ विषय पर देश और विदेश से आए मंत्री और विषय-विशेषज्ञों द्वारा विचार-मंथन किया जा रहा है।