MP NEWS : मध्यप्रदेश के ग्वालियर संभाग के नर्सिंग कॉलेजों के फर्जीवाड़े की जांच अब सीबीआई करेगी। इसे लेकर हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ ने एक बड़ा आदेश दिया है। कोर्ट के आदेश के मुताबिक ग्वालियर-चंबल में मौजूद 35 नर्सिंग कॉलेजों की जांच सीबीआई करेगी। साथ ही 16 जनवरी को स्टेटस रिपोर्ट पेश करने के लिए भी कहा गया है।

2021 में दायर हुई थी जनहित याचिका

जानकारी के मुताबिक, 2021 में भिंड के हरिओम ने हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी। उन्होंने बताया था कि अंचल में नर्सिंग कालेजों को नियम विरुद्ध मान्यता दी गई है। उनके पास न अस्पताल हैं, न बेड की व्यवस्था है। कॉलेज सिर्फ कागजों में ही संचालित हो रहे हैं, ऐसे में इनकी मान्यता निरस्त की जाए। इस पर नर्सिंग काउंसिल की ओर से तर्क दिया गया कि पिछले व वर्तमान सत्र में 271 कालेजों को मान्यता दी गई है। मान्यता देने से पहले पूरे नियमों को परखा गया था।

Bhopal : NRI के साथ ठगी, Credit Card के जरिये खाते से निकाल लिए 14.60 लाख

16 जनवरी को पेश करें स्टेटस रिपोर्ट

अभिभाषक उमेश बोहरे ने बताया कि हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान सरकार को लताड़ लगाई और उनके जवाब पर असंतोष जताते हुए ग्वालियर चंबल अंचल के 35 नर्सिंग कॉलेज की जांच सीबीआई से कराने के आदेश दिए। सीबीआई को इन नर्सिंग कॉलेजों की जांच करने के बाद अपनी स्टेटस रिपोर्ट 16 जनवरी को हाईकोर्ट की डबल बेंच में पेश करनी होगी।