Invest in mp : ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में शामिल हुए विदेशी निवेशकों ने मध्यप्रदेश में बैटरी उद्योग में निवेश को लेकर अपनी इच्छा जाहिर की है। साथ ही प्रदेश में निर्मित होने वाली बैटरी के निर्यात को लेकर भी विदेशी निवेशकों ने कंपनी के सीईओ से चर्चा के दौरान अपनी सहमति जताई। बता दें कि, इंदौर में 11 एवं 12 जनवरी को आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विदेशी निवेशकों से वन टू वन चर्चा कर प्रदेश में निवेश के प्रस्ताव दिए हैं।

रूस की कंपनी ने जताई निवेश की इच्छा

इन्वेस्टर्स समिट में कुछ विदेशी निवेशकों ने बैटरी उद्योग में निवेश करने को लेकर अपने प्रस्ताव रखे हैं। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में स्थित बैटरी निर्माण उद्योग के सीईओ और युवा उद्यमी विजय नंदन से अलग-अलग देशों के निवेशक प्रतिनिधियों से चर्चा हुई है। इनमें बाग्लादेश की राजधानी ढाका के बैटरी खरीददार, मप्र में रूस की ट्रेडिंग हाउस, हाइड्रोलिक्स कंपनी के निदेशक ब्लोखिन सर्गेई पेट्रोविच सहित अन्य शामिल हैं। इन्होंने प्रदेश में बैटरी उद्योग को लेकर प्रदेश सरकार को अपने प्रस्ताव देने की बात सीईओ विजय नंदन से कही है।

नया बैटरी कारखाना शुरू करने की योजना

इस दौरान बैटरी कंपनी के सीईओ विजय नंदन ने विदेशी प्रतिनिधियों को बताया कि वर्ष 2016 से शुरू हुई उनकी बैटरी निर्माण कंपनी आज मध्यप्रदेश सहित देशभर में बैटरी सप्लाई कर रही है। उन्होंने बताया कि, मप्र में कंपनी जल्द ही एक नया बैटरी उद्योग भी शुरू करने वाली है। इसे लेकर केंद्र और प्रदेश सरकार को कंपनी ने अपने प्रस्ताव दिए हैं।

देश-विदेश के निवेशकों ने MP में निवेश की इच्छा जताई

निवेश के लिए आकर्षण का केन्द्र बन कर उभरा MP : मुख्यमंत्री

भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व की प्रमुख आर्थिक शक्ति के रूप में उभर रहा है। देश में प्रदेश की भौगोलिक स्थिति, उपलब्ध प्राकृतिक संसाधन, बेहतर कानून-व्यवस्था, दक्ष मानव संसाधन, संसाधन की उपलब्धता ईज ऑफ डूईंग बिजनेस के प्रभावी क्रियान्वयन से मध्यप्रदेश उद्योग स्थापना और निवेश के लिए आकर्षण के केन्द्र के रूप में उभरा है। देश ही नहीं जापान, कनाडा, जर्मनी सहित अन्य देशों की बहुराष्ट्रीय कम्पनियाँ भी अपनी इकाइयाँ स्थापित करने के लिए मध्यप्रदेश को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही हैं। मुख्यमंत्री चौहान ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के पहले दिन के दूसरे सत्र में उद्योगपतियों और निवेशकों से ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में वन-टू-वन चर्चा कर रहे थे।