Political news : कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भारत जोड़ो यात्रा के बीच पुलवामा हमले एवं सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर ऐसा बयान दिया, जिससे हंगामा मच गया है। भाजपा ने इस बयान को लेकर दिग्विजय सिंह एवं कांग्रेस पर हमला बोला। उधर, पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीपी मलिक ने भी दिग्विजय सिंह के बयान पर प्रश्न खड़े किए हैं। विवाद बढ़ता देख कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह के बयान से किनारा कर लिया तथा इसे उनकी निजी राय बताया।

सर्जिकल स्ट्राइक पर प्रश्न उठाया था

दरअसल, मंगलवार को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक पर प्रश्न उठाया था। उन्होंने कहा था कि हमारे CRPF के 40 जवान पुलवामा में शहीद हुए थे। CRPF के अफसरों ने प्रधानमंत्री मोदी से अनुरोध किया था कि सभी जवानों को एयरलिफ्ट किया जाए, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी नहीं माने। ऐसी चूक कैसे हो गई? उन्होंने कहा, आज तक पुलवामा पर संसद के सामने कोई रिपोर्ट नहीं रखी गई। उन्होंने दावा किया कि सर्जिकल स्ट्राइक किया गया, मगर सबूत नहीं दिखाया। ये (बीजेपी) सिर्फ और सिर्फ झूठ फैलाते हैं।

पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीपी मलिक ने ट्वीट किया

दिग्विजय सिंह ने कहा था, पुलवामा दुर्घटना में आतंकवादी के पास 300 किलो RDX कहां से आई? देवेंद्र सिंह DSP आतंकवादियों के साथ पकड़ा गया मगर फिर क्यों छोड़ दिया गया? पाकिस्तान व भारत के पीएम के मैत्री संबंधों पर भी हम जानना चाहते हैं। पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीपी मलिक ने ट्वीट कर कहा, भारत के सुरक्षा मुद्दों पर कुछ राजनेताओं को निरंतर अपराधी बनते देख दुख हो रहा है। ये लोग बार-बार हमारे अपने सशस्त्र बलों के सफल अभियानों पर प्रश्न उठा रहे हैं।

कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह के बयान से किनारा किया

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाकर पूरी तरह घिर गए हैं। अब कांग्रेस ने भी उनके बयान से किनारा कर लिया है। पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने कहा- दिग्विजय सिंह की टिप्पणी उनके ‘निजी विचार’ हैं तथा पार्टी द्वारा इसका समर्थन नहीं किया गया है। UPA सरकार द्वारा 2014 से पहले सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी। सैन्य कार्रवाइयां जो राष्ट्रीय हित में हैं, कांग्रेस ने सभी का समर्थन किया है तथा आगे भी करती रहेगी।

सिंधिया ने ओसामा-जाकिर का जिक्र कर बताया देशद्रोही

भोपाल: मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगकर बुरी तरह घिर गए हैं। एक ओर जहां कांग्रेस पार्टी ने इसे उनका निजी बयान बताकर पल्ला झाड़ लिया है तो दूसरी ओर भाजपा को आक्रामक होने का अवसर प्राप्त हो गया है। केंद्रीय मंत्री एवं मध्य प्रदेश से ही आने वाले नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इसे भारत माता का अपमान एवं राष्ट्रविरोधी मानसिकता करार दिया है। कभी कांग्रेस में दिग्विजय सिंह के साथी रहे सिंधिया ने यह भी याद दिलाया है कि आतंकी ओसामा के साथ कभी उन्होंने ‘जी’ लगाया था।

दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक और धारा 370 पर उठाए सवाल, केंद्र को इन मुद्दों पर घेरा…

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट किया, ‘आतंकी ओसामा बिन लादेन को ओसामा जी; जाकिर नायक के साथ मंच साझा करना; अपने भाषणों से निरंतर मातृशक्ति के प्रति असम्मान; दिग्विजय जी ने अपनी राष्ट्र विरोधी क्रियाओं की सूची में आज एक और को जोड़ा।’ एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘जिस भारतीय सेना कि कोशिशों, उनकी देश भक्ति और बलिदान के कारण आज आप और पूरा देश सुरक्षित है, उन्हीं पर प्रश्न उठाकर आपने भारत माता का अपमान किया। क्या ये राष्ट्र विरोधी मानसिकता का प्रमाण नहीं है?’ इस ट्वीट के साथ भी सिंधिया ने दिग्विजय सिंह को टैग किया है।