State BJP President Vishnudutt Sharma
State BJP President Vishnudutt Sharma

भोपाल। भाजपा इस वर्ष के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी जोरशोर से कर रही है। हाल ही में हुए नगरीय निकाय चुनाव में पार्टी के कार्यर्ताओं व समर्थकों जो चुनाव जीतकर जनपतिनिधि बने हैं, उन्हें प्रशिक्षण दे रही है। भाजपा से जुड़े नगरीय निकाय के सभी जनप्रतिनिधियों का एक दिवसीय प्रशिक्षण राजधानी भोपाल के वाल्मी परिसर में शुरू हो चुका है।

प्रशिक्षण सत्र का शुभारंभ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने किया। अध्यक्ष शर्मा ने बढ़ता भारत-बढ़ता मध्यप्रदेश विषय नेताओं को संबोधित किया। इसके बाद मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा लोक व्यवहार विषय पर प्रशिक्षण दिया। पार्टी इन नेताओं को कार्य व्यवहार के साथ पार्टी के विचार, कार्यपद्धति, समन्वय और चुनाव में सोशल मीडिया का उपयोग जैसे प्रमुख बिंदुओं पर प्रशिक्षित कर रही है।

Water conservation: मप्र में 6700 करोड़ से 3.48 लाख हेक्टेयर में सिंचाई का लक्ष्य

प्रशिक्षण के अलग-अलग सत्र-

प्रशिक्षण के अलग-अलग सत्र हैं, जिन्हें पार्टी के प्रदेश मंत्री रजनीश अग्रवाल भाजपा सरकारों की कल्याणकारी योजनाएं विषय, प्रदेश प्रवक्ता अर्चना चिटनीस भाजपा-विचार, कार्यपद्धति एवं हमारा समन्वय विषय एवं सोशल मीडिया विभाग के प्रदेश संयोजक अभिषेक शर्मा सोशल मीडिया की भूमिका विषय पर उद्बोधन देंगे। कार्यक्रम में प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग, भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर, प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक शर्मा, प्रदेश महामंत्री भगवानदास सबनानी, विधायक रामेश्वर शर्मा, विष्णु खत्री, कृष्णा गौर, संभाग प्रभारी कांतदेव सिंह, जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी भी उपस्थित रहे।

भोपाल में बढ़े 51 हजार मतदाता,महिला मतदाताओं की संख्या ज्यादा

भोपाल। राजधानी में 51 हजार 466 वोटर बढ़े हैं। इनमें महिला वोटरों का आंकड़ा अधिक है। वहीं थर्ड जेंडर वोटर भी बढ़े गये हैं। सबसे अधिक मतदाता हुजूर और नरेला विधानसभा में बढ़े, जबकि भोपाल मध्य में वोटरों की संख्या सबसे कम बढ़ी है। मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के बाद   20,01,510 मतदाता भोपाल में हो गये हैं। पहले 19,50,044 मतदाता भोपाल की सात विधानसभा में थे। जबकि 22,743 मतदाताओं के नाम विस से काटे गये हैं।

गुरूवार को भोपाल के सभी 2013 पोलिंग बूथ पर मतदाता सूची लगाई गई। जहां बीएलओ ने चुनावी पाठशाला लगाई। उप जिला निर्वाचन अधिकारी संजय श्रीवास्तव ने बताया कि जिले के सभी मतदान केन्द्रों पर पुनिरीक्षण का काम किया गया। 26 दिसंबर तक प्राप्त आवेदनों का निराकरण किया गया।

वहीं 5 जनवरी को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन किया गया है। इस दौरान सभी बीएलओ अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर चुनावी पाठशाला कर मतदान सूची का वाचन किया।